ADCA का फुल फॉर्म व कोर्स करने के फायदे ADCA Computer Course Hindi

कंप्यूटर एप्लीकेशन में रुचि रखने वाले अभ्यर्थी ADCA कोर्स कर बेहतरीन करियर स्थापित कर सकते हैं। यह एडवांस डिप्लोमा कोर्स होता है। जिसके बाद विभिन्न डिपार्टमेंट में जॉब के ढेरों अवसर उपलब्ध हैं। यह कंप्यूटर कोर्स सरकारी नौकरी के लिए भी पूरी तरह मान्य होता है। इस लेख में ADCA कंप्यूटर कोर्स से जुड़ी प्रत्येक जानकारी दी गई है। जिसमे शामिल है ADCA का  फुल फॉर्म 

adca course details hindi

आज के दौर में कंप्यूटर हमारी जरूरत बन गया है। चाहे प्राइवेट जॉब हो या गवर्नमेंट जॉब, सभी जगह कंप्यूटर नॉलेज के एक्सपर्ट की जरूरत होती है। ज्यादातर नौकरियों में कंप्यूटर कोर्स किए हुए कैंडिडेट को अधिक प्राथमिकता दी जाती है। इसलिए कंप्यूटर का बेसिक नॉलेज होना बहुत ही जरूरी हो जाता है।

यदि आप 12वीं पास कर चुके हैं और एक शॉर्ट टर्म कंप्यूटर कोर्स करना चाहते हैं। जिससे आपका कंप्यूटर नॉलेज तो बढ़े ही साथ ही कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर की फील्ड में करियर स्थापित करने में मदद मिले। तो आपके लिए एडीसीए (ADCA) कोर्स बेस्ट ऑप्शन है।

एडीसीए कोर्स के बारे मे जानकारी ADCA Computer Course In Hindi

यहां पर ADCA कोर्स से संबंधित जानकारी जैसे कि ADCA कोर्स क्या है ADCA Ka Full Form Kya होता है? एडीसीए कोर्स करने के फायदे तथा इस कोर्स की फीस कितनी है। ADCA course ki संपूर्ण jankari इस लेख के द्वारा शेयर की गई है। यहां पर यह भी बताया गया है कि ADCA कोर्स के बाद कौन सी नौकरी कर सकते हैं तथा सैलरी कितनी होती है।

ADCA कंप्यूटर कोर्स कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा कोर्स है। यदि आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन में इंटरेस्ट है और मैथ्स में भी अच्छी पकड़ है। तो आप इस कोर्स को आसानी से करके बेहतर भविष्य बना सकते हैं।

ADCA Ka Full Form हिंदी में

यह जानने से पहले कि ADCA क्या होता है, आइए जानते हैं ADCA का फुल फॉर्म क्या है? ऐसे स्टूडेंट्स जो 12वीं के बाद कंप्यूटर कोर्स करना चाहते हैं। उनके लिए एडीसीए कंप्यूटर कोर्स बेहतर अपॉर्च्युनिटी होता है। ADCA ka full form होता है “एडवांस डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन” जिसे हिंदी में “कंप्यूटर अनुप्रयोग में उन्नत डिप्लोमा” कहते हैं।

ADCA कंप्यूटर कोर्स क्या है

यह कंप्यूटर एप्लीकेशन में एडवांस डिप्लोमा कोर्स है। जिन भी छात्रों का इंटरेस्ट कंप्यूटर एप्लीकेशन में है। वे इस कोर्स को करके बेहतर नॉलेज प्राप्त कर सकते हैं। वे कंप्यूटर की फील्ड में उच्च करियर स्थापित कर सकते हैं। एडीसीए कोर्स की अवधि 1 वर्ष होती है।

इस कोर्स के दौरान छात्रों को एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर और सिस्टम सॉफ्टवेयर के निर्माण और डेवलपमेंट का नॉलेज दिया जाता है। एडीसीए कोर्स को इतने कम समय (1 वर्ष) में पूरा करके आप प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, ऑटोमेशन, टैली और वेब डिजाइनिंग आदि का नॉलेज प्राप्त करते हैं।

ADCA Course Ki Fees कितनी होती है

एडीसीए कोर्स की फीस अलग-अलग इंस्टिट्यूट में डिफरेंट हो सकती है। इस बारे में आप इंस्टिट्यूट से विस्तार में जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें। यदि हम एडीसीए कोर्स की एवरेज फीस की बात करें, तो सामान्यतः इस कोर्स की फीस 5 से ₹10000 होती है। हालांकि कुछ कॉलेजों में कोर्स की फीस 20 से ₹30000 भी होती है।

ADCA कोर्स कौन कर सकता है

आपको बता दें कि एडीसीए कंप्यूटर कोर्स को हर एक शख्स कर सकता है। जिसे कंप्यूटर एप्लीकेशन फील्ड में इंटरेस्ट है या इस फील्ड में करियर बनाना चाहता है। आप चाहे स्टूडेंट हो या जॉब अस्पिरेंट हो या फिर किसी दूसरे फील्ड में काम कर रहे हैं और कंप्यूटर नॉलेज प्राप्त करना चाहते हैं। तो इस कोर्स को कर सकते हैं।

ADCA कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी

एडीसीए कोर्स करने के लिए कोई निर्धारित एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया नहीं है। हालांकि इस कोर्स को करने के लिए 12 वीं पास होना जरूरी है।

  • अलग-अलग इंस्टीट्यूट में ऐडमिशन प्रोसेस अलग अलग हो सकता है।
  • कुछ इंस्टीट्यूट में ऐडमिशन के लिए कंप्यूटर कोर्स जरूरी होता है, वहीं दूसरी और कुछ संस्थान एंट्रेंस टेस्ट के जरिए इस कोर्स में एडमिशन लेते हैं।
  • आप एडीसीए कोर्स मे डायरेक्ट एडमिशन भी ले सकते हैं। यदि आपने 11वीं और 12वीं में कंप्यूटर को मुख्य या ऑप्शनल विषय के रूप में पढ़ा है। तो इसका अलग से फायदा होता है।

ADCA कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है

एडीसीए कोर्स करने से आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन से संबंधित टेक्नोलॉजी और रिसर्च बेस्ड जानकारी दी जाती है। इस कोर्स में थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों शामिल है। यह कोर्स कंप्यूटर्स, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, ऑफिस ऑटोमेशन, ऑपरेटिंग सिस्टम, टैली और वेब डिजाइनिंग आदि को भी कवर करता है।

ADCA कोर्स में टॉपिक शामिल है जैसे कि कंप्यूटर फंडामेंटल्स, बेसिक ऑफ कंप्यूटर हार्डवेयर, बेसिक कॉन्सेप्ट आफ अकाउंट्स, वर्कशीट, डॉक्स वर्ड, फार्म डेटाबेस, ऑपरेटिंग सिस्टम, स्लाइड पावर प्वाइंट, बैलेंस शीट प्रॉफिट और लॉस, टैली, फोटो एडिटिंग, सॉफ्टवेयर, इंटरनेट, सॉफ्टवेयर इंस्टॉलेशन, वायरस प्रोटक्शन व स्कैनिंग, C लैंग्वेज, C++ लैंग्वेज तथा एचटीएमएल जावास्क्रिप्ट आदि।

ADCA कोर्स का सिलेबस (adca course syllabus in Hindi)

यह 1 वर्ष का कोर्स होता है। जोकि 2 सेमेस्टर में पूरा होता है। बहुत से कॉलेज इस कोर्स को 4 सेमेस्टर में पूरा करते हैं। आइए जानते हैं एडीसीए कोर्स का 2 सेमेस्टर का सिलेबस क्या है?

ADCA कोर्स Syllabus सेमेस्टर 1

  • माइक्रोसॉफ्ट विंडो XP/VISTA
  • माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस 2007
  • माइक्रोसॉफ्ट एक्सेस (database)
  • माइक्रोसॉफ्ट वर्ड
  • माइक्रोसॉफ्ट पावरप्वाइंट
  • इंटरनेट और ई-मेल
  • कंप्यूटर फंडामेंटल्स और कंप्यूटर नेटवर्क
  • मल्टीमीडिया कॉन्सेप्ट

ADCA कोर्स Syllabus सेमेस्टर 2

  • टैली 5.4
  • C प्रोग्रामिंग
  • विजुअल बेसिक
  • C++ प्रोग्रामिंग
  • कोरल ड्रा
  • फोटोशॉप CS

ADCA कोर्स करने के फायदे क्या है

अभी तक हमने जाना कि ADCA कोर्स क्या है तथा यह कोर्स कैसे कर सकते हैं। आप जानते हैं कि adca course karne ke fayde क्या है। आखिर हमें एडीसीए कोर्स क्यों करना चाहिए। आइए जानते हैं adca computer कोर्स करने के फायदे इन हिंदी।

  • कंप्यूटर की फील्ड में यह एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स है। यदि आप 12वीं के बाद कंप्यूटर की फील्ड में करियर बनाना चाहते हैं। तो ADCA कोर्स उत्तम ऑप्शन होता है।
  • ADCA कोर्स को सभी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स कर सकते हैं। आप चाहे साइंस, आर्ट्स या कॉमर्स से 12वीं पास किया है। तो इस कोर्स को करके बेहतर करियर बना सकते हैं।
  • कंप्यूटर की फील्ड में किसी भी सरकारी नौकरी के लिए ADCA कोर्स का सर्टिफिकेट मान्य होता है।
  • एडीसीए कोर्स करने के बाद आपके पास कंप्यूटर की फील्ड में बहुत सी जॉब अपॉर्चुनिटी उपलब्ध होती है। आप भी तीन प्रकार की नौकरी कर सकते हैं।
  • यदि आप कम फीस तथा कम समय में ही जॉब ओरिएंटेड कंप्यूटर कोर्स करना चाहते हैं। तो ADCA कोर्स कर सकते हैं। यह कोर्स 1 वर्ष में तथा कम फीस में पूरा हो जाता है। जिसके बाद आप इस क्षेत्र में नौकरी या बिजनेस कर सकते हैं।

ADCA Course Jobs in Hindi (एडीसीए के बाद नौकरी)

ADCA कोर्स करने के बाद कैंडिडेट के पास बहुत सी जॉब अपॉर्च्युनिटी होती है। ADCA कोर्स करने के बाद स्टूडेंट को कंप्यूटर के बारे में बेस्ट नॉलेज मिल जाता है। जिसके बाद भी कंप्यूटर से संबंधित नौकरियों के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अब जानते हैं कि कौन-कौन सी नौकरी को ADCA सर्टिफिकेट धारक कर सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर

ADCA कोर्स करने के बाद आप किसी कंपनी या ऑफिस में कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में करियर की शुरुआत कर सकते हैं। इस कोर्स के दौरान आपके अंदर वह सभी स्किल डेवलप होती है। जिनकी जरूरत कंप्यूटर ऑपरेटर को होती है।

डाटा एंट्री ऑपरेटर

दिन-ब-दिन गवर्नमेंट और प्राइवेट डाटा एंट्री की जॉब वैकेंसी निकलती रहती है। आप एडीसीए कोर्स करने के तुरंत बाद डाटा एंट्री ऑपरेटर के रूप में काम कर सकते हैं। क्योंकि आपको पहले ही डाटा एंट्री की ट्रेनिंग दी गई होती है।

DTP ऑपरेटर

एडीसीए के सेकंड सेमेस्टर में ग्राफिक डिजाइनिंग की ट्रेनिंग दी जाती है। इस कोर्स के तुरंत बाद आप DTP ऑपरेटर के रूप में मीडिया हाउस, न्यूज़ एजेंसी तथा पब्लिशिंग हाउस आदि में काम कर सकते हैं।

ऑफिस एग्जीक्यूटिव

आप किसी भी ऑफिस में ऑफिस एग्जीक्यूटिव के रूप में काम कर सकते हैं। क्योंकि इस कोर्स के दौरान आप मे कंप्यूटर से रिलेटेड सभी स्किल डेवलप होती है। जिनका इस्तेमाल ऑफिस एग्जीक्यूटिव के रूप में करना होता है।

ग्राफिक डिजाइनर

आप एडीसीए के तुरंत बाद किसी भी कंपनी में ग्राफिक डिजाइनर के रूप में काम के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

फोटो एडिटर

यदि आपको फोटोशॉप की बहुत अच्छी नॉलेज है। तो आप प्रोफेशनल फोटो एडिटर के रूप में जॉब कर सकते हैं।

HTML कोडर

यदि आपकी HTML कोडिंग में अच्छी पकड़ है। तो आप एचटीएमएल कोडर के रूप में काम कर सकते हैं। आपको किसी वेबसाइट या एप का बेसिक डिजाइन एचटीएमएल के जरिए तैयार करके वेब डेवलपर को देना होता है।

  • फ्रंट ऑफिस एग्जीक्यूटिव
  • हेल्प डेस्क ऑपरेटर
  • कस्टमर सपोर्ट

भारत में ADCA कोर्स के लिए बेस्ट कॉलेज

  1. आचार्य नरेंद्र देव कॉलेज, दिल्ली
  2. राजेश्वरी आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज फॉर विमेन, तमिलनाडु
  3. सरस्वती कॉलेज ऑफ़ आर्ट्स एंड साइंस, तमिलनाडु
  4. बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्निकल एजुकेशन (BITE) न्यू दिल्ली
  5. मीना शाह इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट, उत्तर प्रदेश
  6. S.Kula विमेन कॉलेज मणिपुर
  7. महर्षि कॉटिल्या अकैडमी (MKA) मध्य प्रदेश
  8. इंस्टीट्यूट फॉर डायरिया डेवलपमेंट (ICDL) लखनऊ
  9. दुर्गा कॉलेज (DC) छत्तीसगढ़

ADCA कोर्स के बाद सैलरी कितनी होती है?

एडीसीए कोर्स के बाद कैंडिडेट की एवरेज सैलरी 3 से 5 लाख रुपए प्रति वर्ष होती है। एडीसीए के बाद सैलरी जॉब प्रोफाइल और एक्सपीरियंस पर निर्भर करती है।

ADCA का फुल फॉर्म क्या है?

ADCA का फुल फॉर्म है एडवांस डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन।

2 thoughts on “ADCA का फुल फॉर्म व कोर्स करने के फायदे ADCA Computer Course Hindi”

Leave a Comment